पंचायत के दौरान देवर ने भाभी की टंगारी से हमला कर की हत्या

  • ग्राम प्रधान की उपस्थिति में घर मे ही चल रही थी पंचायत
  • देवर ने भाभी पर लगाया चरित्रहीन होने का आरोप

  • सोनभद्र। चोपन थाना क्षेत्र के कनछ ग्राम पंचायत के पकरी गांव में गुरुवार की सुबह देवर ने अपने भाभी की टंगारी से प्रधान की उपस्थिति में चल रही पंचायत के दौरान हमला कर हत्या कर दिया। इसके बाद वह टंगारी लहराते हुए फरार हो गया। पकरी गांव निवासी सत्येंद्र यादव ऑटो चलाता है। उसका पत्नी से लंबे समय से विवाद चल रहा है। कई बार इसको लेकर उनके बीच आपस में कहासुनी भी हो चुकी है। इसी बात को लेकर गुरुवार की सुबह उसके ही घर में ग्राम प्रधान की उपस्थिति में पंचायत चल रही थी। तभी सत्येंद्र का छोटा भाई मनोज यादव वहां पहुंचा और अपनी भाभी पर चरित्रहीन होने का आरोप लगाते हुए टंगारी से गर्दन पर मार दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी निरीक्षक विजय कुमार चौरसिया मौके पर पहुंच गए। उन्होंने शव को कब्जे में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

    बिना टिकट यात्रा कर रहे 1534 रेल यात्री पकड़े गए

  • पकड़े गए लोगों से सात लाख 77 हजार 620 रुपये वसूला गया जुर्माना

  • चोपन (सोनभद्र)। धनबाद मंडल में बड़े पैमाना पर टिकट चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। शनिवार को भी धनबाद चन्द्रपुरा- कोडरमा खण्ड में मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में टिकट चेकिंग अभियान चला। मंडल के विभिन्न खण्डों में विशेष टिकट चेकिंग के साथ-साथ धनबाद, गोमो, कोडरमा, डाल्टनगंज, चोपन, बरकाकाना, सिंगरौली स्टेशनों में भी गहन टिकट चेकिंग की गई। इस जांच अभियान में कुल 1534 यात्रियों को पकड़ा गया जिसमें बिना टिकट यात्रा कर रहे यात्री, बिना उचित प्राधिकार के यात्रा करने वाले यात्री, बिना बुक किये गए सामान के साथ यात्रा कर रहे यात्री शामिल थे। इस दौरान उनसे सात लाख 77 हज़ार 620 रुपये जुर्माना व कड़ी हिदायत दी गई। चेकिंग अभियान में 172 टिकट चेकिंग कर्मियों को लगाया गया था। चेकिंग टीमों ने स्टेशनों एवं विभिन्न मेल/एक्स्प्रेस ट्रेनों में भी चेकिंग किया। इस अभियान का उद्देश्य बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों पर अंकुश लगाना है ताकि वे अगली बार टिकट लेकर यात्रा करें। उचित टिकट लेकर यात्रा करने वाले यात्रियों को बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों के कारण किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े, इसका भी ख्याल रखा जा रहा है। यह जानकारी अमरेश कुमार, वरीय मंडल वाणिज्य प्रबंधक धनबाद वरीय जनसंपर्क अधिकारी ने दी।

    बकरीद पर शांति व्यवस्था के लिए एसपी ने किया पैदल मार्च

    बाराबंकी। पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह ने आगमी त्योहार बकरीद के दृष्टिगत जनपद में कानून एवं शान्ति व्यवस्था को सुदृढ़ बनाये रखने के लिए पैदल मार्च किया। उन्होंने पुलिस बल के साथ थाना कोतवाली नगर क्षेत्रान्तर्गत मिश्रित/संवेदनशील आबादी वाले स्थानों पर पैदल गस्त तथा ईदगाह व बकरा मण्डी स्थल का निरीक्षण किया। शांति/सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया गया। साथ ही दुकानदारो से अतिक्रमण न करने की हिदायत दी। पुलिस अधीक्षक ने सुनिश्चित स्थान पर ही कुर्बानी देने तथा रास्ते पर नमाज न पढ़ने व आम जनमानस से आपसी सौहार्द बनाये रखने हेतु कहा। गस्त में एसडीएम नवाबगंज, क्षेत्राधिकारी नगर जगतराम कन्नौजिया व प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर मय टीम शामिल रहें।

    बारिश से पहले शुरू हुई नालों की सफाई, लगे कर्मी

  • चोपन नगर पंचायत क्षेत्र में युद्ध स्तर पर हो रही सफाई
  • चोपन (सोनभद्र)। मानसून आने से पहले नगर में स्थित नाली एवं नालों की साफ सफाई का कार्य नगर पंचायत ने शुरू कर दिया है। जिससे बारिश होने पर कस्बे में नाले चोक होने से जलभराव की समस्या उत्पन्न न हो।
    बारिश के मौसम में जलभराव न हो इसे लेकर नगर पंचायत ने युद्ध स्तर पर तैयारी शुरू कर दी गई है। इसी के तहत नालों की सफाई का काम तेजी से हो रहा है। वहीं सफाई नायकों को निर्देश दिया गया है कि किसी भी सुरत में नालों में कचरा जमा न होने दें। जो भी नालों में कचरा फेंके, उन्हें चिह्नित कर नोटिस दिया जाए। नगर पंचायत प्रशासन की ओर से दावे किए जा रहे है कि पूरे नगर में सफाई का काम युद्धस्तर पर चल रहा है। बरसात के पहले सफाई का काम पूरा कर लिया जाएगा। नगर पंचायत अध्यक्ष उस्मान अली का कहना है कि बारिश में जल जमाव की स्थिति न हो, उसके लिए सफाई अभियान चलाकर नाले-नालियों की सफाई कराई जा रही है जिससे बारिश के दौरान नाले ओवरफ्लो न हो। अधिशासी अधिकारी लल्लन राम यादव का कहना है कि नाला सफाई की टीम बना दी गई है। जो अपने अपने क्षेत्रों में सफाई के अलावा नालों की सफाई का काम भी विशेष रुप से देख रही है। हालांकि कुछ लोग अभी भी नालों में कचरा व गंदगी फेंक रहे है, ऐसे लोगों को चिह्नित करने को कहा गया है। सफाई निरीक्षक मनोज शुक्ला का कहना है कि रोस्टर बनाकर सफाई कराई जा रही है। वे स्वयं नियमित सफाई कार्य का निरीक्षण कर रहे हैं। लापरवाही पर कार्रवाई की जा जायेगी।

    नौ बीडीओ के सीयूजी नम्बर रहे स्विच ऑफ स्पष्टीकरण तलब

  • बीडीओज के कार्यालय में अनुपस्थित रहने की डीएम ने मोबाइल से की क्रॉस चेकिंग

  • ब्लॉक घोरावल चोपन चतरा, नगवा, म्योरपुर, बभनी, कोन, करमा व दुद्धी के बीडीओ के बंद मिले सीयूजी नंबर
  • सोनभद्र। जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह ने लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। उन्होंने जिले के खंड विकास अधिकारियों के सीयूजी नम्बर पर फोन करवाया तो नौ बीडीओ के मोबाइल स्विच ऑफ मिले। इस पर कार्रवाई करते हुए उन्होंने सभी से स्पष्टीकरण तलब किया है। जिलाधिकारी को इस आशय की सूचना/ शिकायत प्राप्त हुई है कि कई खंड विकास अधिकारी कार्यालय में उपस्थित नहीं रहते, जिसके कारण जनमानस की शिकायतों का निस्तारण नहीं हो पाता है। इस शिकायत को जिलाधिकारी ने तत्काल संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी कार्यालय के दूरभाष नंबर के माध्यम से जिले सभी ब्लाकों के बीडीओ के सीयूजी नंबर पर संपर्क किया गया, जिस पर विकास खण्ड घोरावल चोपन चतरा, नगवा, म्योरपुर, बभनी, कोन, करमा व दुधी के खंड विकास अधिकारियों के सीयूजी नंबर स्विचऑफ पाए गए। जिस पर जिलाधिकारी ने विकास खण्ड घोरावल चोपन चतरा, नगवा, म्योरपुर, बभनी, कोन, करमा व दुधी के खंड विकास अधिकारियों को स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश देते हुए कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी का निर्देश है कि प्रत्येक अधिकारियों/ कर्मचारियों को समय से कार्यालय में उपस्थित होकर जनता की शिकायतों को सुनकर ससमय गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण कराने के निर्देश दिए गए है, किन्तु इन अधिकारियों का मोबाइल नम्बर स्विच ऑफ रहना यह दर्शाता है कि जनता के समस्याओं का निस्तारण सही समय पर नहीं किया जा रहा है। यह कृत्य शासन की मंशा के विपरीत है, अपने पदीय दायित्वों के प्रति उदासीनता वह लापरवाही का द्योतक है। उक्त के संबंध में संबंधित खंड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया गया है की दो दिवस में तथात्मक कारण स्पष्ट करते हुए अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें। निर्धारित समय अवधि में स्पष्टीकरण प्राप्त न होने की स्थिति में नियमाlनुसार कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

    चुनाव खत्म होते ही एक्शन मोड में यूपी के मुख्यमंत्री

  • राजस्व संबंधी मामलों के निपटारे में लापरवाही पर सीएम योगी सख्त
  • खराब प्रदर्शन करने वाले जिलों के अधिकारियों पर हो सकती है बड़ी कार्रवाई
  • कई अफसरों को जारी हो चुकी है कारण बताओ नोटिस
  • जल्द ही उच्च अधिकारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपेंगे रिपोर्ट
  • जिलाधिकारी से लेकर तहसील स्तर के अधिकारियों पर हो सकती है कार्रवाई
  • राजस्व वादों के निस्तारण में महोबा, चित्रकूट, मुजफ्फरनगर, शामली और बागपत फिसड्डी
  • लखनऊ, 14 जून। चुनाव आचार संहिता खत्म होते ही यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक्शन मोड में आ गए हैं। उन्होंने हाल में ही एक उच्च स्तरीय बैठक कर विभिन्न विभागों के अधिकारियों को तलब कर समीक्षा बैठक की। अधिकारियों को विभिन्न योजनाओं में प्रगति लाने के निर्देश दिये। विकास कार्यों में लापरवाही बरतने वालों की सूची भी तलब किया है। बैठक में सीएम योगी ने राजस्व संबंधी मामलों में लापरवाही पर खासी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने तत्काल लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लेने का आदेश दिया। साथ ही दो हफ्ते में रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय को सौंपने के निर्देश दिये हैं।

    जल्द ही सीएम कार्यालय को सौंपी जाएगी लापरवाह अधिकारियों की रिपोर्ट

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद राजस्व से जुड़े अधिकारी हरकत में आ गये हैं। इसी क्रम में राजस्व परिषद चेयरमैन रजनीश दुबे ने हाल ही में राजस्व से जुड़े मामलों की समीक्षा की। इसमें उन्होंने राजस्व संबंधी कार्यों में लापरवाही पर राजस्व अफसरों, एडीएम, एसडीएम, नायाब तहसीलदार और तहसीलदार स्तर के अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया। उधर, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने भी राजस्व संबंधी मामलों को लेकर बैठक की। इस दौरान उन्होंने प्रदेश के विभिन्न जिलों में राजस्व संबंधी मामलों के निपटारे में लापरवाह अधिकारियों को फटकार लगायी। साथ ही कार्यों में सुधार लाने के निर्देश दिये। इसके अलावा वह जल्द ही राजस्व संबंधी मामलों में अनियमितता बरतने वाले जिलों की रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय को सौंपेंगे, जिसके बाद इन अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो सकती है।

    राजस्व वादों के निपटारे में महोबा, चित्रकूट और मुजफ्फरनगर फिसड्डी

    मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र द्वारा राजस्व विभाग की बैठक में सामने आया कि राजस्व संबंधी मामलों के निपटारों में कई जिले फिसड्डी रहे हैं। इस पर उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाने के साथ इसमें सुधार लाने के निर्देश दिये। बैठक में मुख्य सचिव ने पाया कि रियल टाइम खतौनी में कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी, चित्रकूट और बलरामपुर का प्रदर्शन ठीक नहीं है। इसी तरह वाराणसी, सोनभद्र, बलिया, मैनपुरी और गोरखपुर में खतौनी पुनरीक्षण एवं अंश निर्धारण का प्रतिशत काफी कम रहा है। इन जिलों में करीब 50 प्रतिशत ही अंश निधारण का कार्य हुआ है। वहीं स्वामित्व योजना के तहत घरौनी तैयार करने में गोरखपुर, प्रयागराज, बाराबंकी, जौनपुर और गाजीपुर में काफी धीमी गति से कार्य हो रहा है। मुख्य सचिव ने इसमें तेजी लाने के निर्देश दिये। इसके अलावा राजस्व वादों के निस्तारण में महोबा, चित्रकूट, मुजफ्फरनगर, शामली और बागपत फिसड्डी रहे हैं। यहां आठ हजार से अधिक मामले लंबित हैं।

    नामांतरण में कुशीनगर, सोनभद्र तो पैमाइश में लखनऊ, प्रयागराज का प्रदर्शन ठीक नहीं

    बैठक में सामने आया कि राजस्व वाद के तहत धारा-24 (पैमाइश) में लखनऊ, प्रयागराज, अमरोहा, फतेहपुर और सहारनपुर का प्रदर्शन ठीक नहीं है। इसके साथ ही धारा-34 (नामांतरण) में कुशीनगर, सोनभद्र, रायबरेली, बलिया और अमेठी में पहले से सुधार हुआ है, लेकिन निपटारे का प्रतिशत 95 प्रतिशत से कम है। इसी तरह धारा-80 (कृषिक भूमि का गैर-कृषिक भूमि में परिवर्तन) के अयोध्या में 34, प्रतापगढ़ में 21, गोरखपुर में 12, कानपुर नगर में 10 और बाराबंकी में 7 मामले लंबित हैं। यह सभी मामले एक वर्ष से अधिक और तीन वर्ष से कम के हैं। इसे लेकर मुख्य सचिव जल्द ही पूरी रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय को सौंप सकते हैं। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा लापरवाह अफसरों पर कड़ी कार्रवाई की जा सकती है।

    ट्रक से टक्कर में टेंपो सवार पांच लोगों की मौत छह घायल

  • गुजरात कमाने जा रहे थे यूपी और झारखंड के मजदूर
  • झारखंड के नगर उटारी में हुई दुर्घटना
  • दुर्घटना में पलटकर पुल के नीचे गिर गया था ऑटो

  • सोनभद्र। जनपद की सीमा से सटे झारखंड राज्य के गढ़वा जिले में शुक्रवार की भोर में सवारी टेंपो व ट्रक में टक्कर हो गई। एनएच 75 गढ़वा मुड़ीसेमर मार्ग पर श्री बंशीधर नगर थाना क्षेत्र के पाल्हे गांव के आशुतोष महादेव मंदिर के समीप हुई इस सड़क दुर्घटना में पांच लोगों की मौत हो गई। जबकि छह लोग घायल हो गए। मृतकों में थाना क्षेत्र के महुली गांव के केशनाथ के पुत्र बिमलेश कुमार कनौजिया 42 वर्ष, झारखण्ड के रमना थाना क्षेत्र के सिलियाटोंगर गांव के सुरेश भुइयां के पुत्र अरुण भुइयां 30 वर्ष, रमाशंकर भुइयां के पुत्र बिकेश भुइयां 20 वर्ष, विनोद भुइयां के पुत्र राजा कुमार 21 वर्ष एवं रामवृक्ष भुइयां के पुत्र राजकुमार भुइयां 53 वर्ष शामिल हैं। जबकि घायलों में रमना थाना क्षेत्र के सिलियाटोंगर गांव के राम प्रसाद राम के पुत्र मिथिलेश भुइयां, विढमगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत महुली गांव के रामचन्द्र भुइयां के पुत्र छोटूलाल भुइयां, रमना थाना क्षेत्र के सिलियाटोंगर गांव के महावीर भुइयां के पुत्र उमेश भुइयां, रामप्रसाद भुइयां के पुत्र राकेश भुइयां, रहमुदिन अंसारी के पुत्र मेराज अंसारी एवं रामचंद्र भुइयां के पुत्र संजय भुइयां शामिल हैं। सभी घायलों का सदर अस्पताल गढवा झारखंड में इलाज चल रहा है। यह सभी लोग एक ही आटो में सवार होकर सिलियाटोंगर गांव से गुजरात के जामनगर जाने के लिए आटो में सवार होकर निकले थे। उन सभी को नगर ऊंटारी रेलवे स्टेशन से शक्तिपुंज एक्सप्रेस पकड़ना था। इस दौरान जतपुरा गांव के समीप सामने से आ रहे ट्रक ने आटो में टक्कर मार दिया। इससे आटो पलट कर पुल के नीचे चला गया। इस घटना के बाद घटना स्थल के आसपास के लोगों की मदद से सभी घायलों को अस्पताल ले जाया गया। जहां चिकित्सक ने पांच लोगों को मृत घोषित कर दिया।

    किशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म के दोषी व्यक्ति को उम्रकैद

  • 35 हजार रूपये अर्थदंड, न देने पर छह माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी

  • अर्थदंड की धनराशि में से 28 हजार रूपये पीड़िता को मिलेगी
  • सवा दो वर्ष पूर्व अपहरण कर 16 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ हुए दुष्कर्म का मामला

  • सोनभद्र। सवा दो वर्ष पूर्व 16 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर उसके साथ हुए दुष्कर्म के मामले में अपर सत्र न्यायाधीश / विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट सोनभद्र अमित वीर सिंह की अदालत ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए दोषसिद्ध पाकर दोषी पवन कुमार को उम्रकैद एवं 35 हजार रूपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड न देने पर छह माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी। वहीं अर्थदंड की धनराशि में से 28 हजार रूपये पीड़िता को मिलेगी।
    अभियोजन पक्ष के मुताबिक दुद्धी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी पीड़िता के पिता ने दुद्धी थाने में दी तहरीर में अवगत कराया था कि उसकी 16 वर्षीय नाबालिग बेटी जो कक्षा 9 में पढ़ती थी को 17 मार्च 2022 की रात में जब वह रोज की तरह अपने कमरे में पढ़ रही थी और घर के सभी सदस्य खा पीकर सो रहे थे तभी रात्रि में राजन कुमार पुत्र भूपेंद्र कुमार उर्फ बबलू भारती निवासी अमावट, थाना दुद्धी, जिला सोनभद्र, पवन कुमार पुत्र देवनाथ निवासी बैरखड़,थाना विंढमगंज, जिला सोनभद्र और दो- तीन लोग अज्ञात उसकी नाबालिग बेटी का अपहरण कर ले गए और उसके साथ बलात्कार करके रात में बेटी को दरवाजे के बाहर बेहोशी हाल में छोड़ कर भाग गए। बेटी को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दुद्धी में दवा इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। इस तहरीर पर पुलिस ने 18 मार्च 2022 को अपहरण, बलात्कार और पाक्सो एक्ट में एफआईआर दर्ज कर मामले की विवेचना शुरू कर दिया। दौरान विवेचना विवेचक ने बयान लेने के बाद पर्याप्त सबूत मिलने पर राजन कुमार और पवन कुमार जो आपस में ममेरा - फुफेरा भाई हैं के विरुद्ध कोर्ट में अपहरण, दुष्कर्म और पाक्सो एक्ट में चार्जशीट दाखिल किया था। किंतु राजन कुमार की उम्र 18 वर्ष से कम होने की वजह से उसकी पत्रावली किशोर न्याय बोर्ड भेज दी गई।
    मामले की सुनवाई के दौरान अदालत ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं के तर्कों को सुनने, गवाहों के बयान एवं पत्रावली का अवलोकन करने पर दोषसिद्ध पाकर दोषी पवन कुमार को उम्रकैद एवं 35 हजार रूपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड न देने पर छह माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी। वहीं अर्थदंड की धनराशि में से 28 हजार रूपये पीड़िता को मिलेगी। अभियोजन पक्ष की तरफ से सरकारी वकील दिनेश कुमार अग्रहरी, सत्य प्रकाश त्रिपाठी एवं नीरज कुमार सिंह ने बहस की।

    पिकअप के धक्के से कार सवार शिक्षक बचा धू धू कर जली कार

  • गेराज में ले जाते समय कार में लगी आग, फायर ब्रिगेड लौटी
  • सोनभद्र। पिपरी थाना क्षेत्र के मुर्धवा मोड पर शुक्रवार की सुबह एक कार में आग लगने से हड़कंप मच गया, मौके पर मौजूद यातायात पुलिस द्वारा तत्काल फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई मगर फायर ब्रिगेड के आते-आते कार पूरी तरह जल गई। म्योरपुर थाना क्षेत्र के काचन निवासी इकरार हुसैन बेसिक शिक्षा परिषद में शिक्षक है। शुक्रवार की सुबह वह लखनऊ से वापस घर जा रहे था। इस दौरान रनटोला गांव के पास उसकी कार को एक पिकअप ने धक्का मार दिया। दुर्घटना के बाद पिकअप वाला मौके से फरार गया। गाड़ी खराब होने पर अध्यापक ने दूसरी कार मंगाई और उससे अपनी पत्नी व बच्चों को लेकर घर चला गया। कार चला रहे चंदन निवासी काचन ने बताया कि वह दुर्घटनाग्रस्त कार को लेकर रेणुकूट में किसी मैकेनिक के गेराज में जा रहा था, इस दौरान मुर्धवा मोड़ पहुंचते ही कार में आग लग गई। आग लगते ही मुर्धवा मोड़ पर मौजूद यातायात पुलिस के सिपाहियों ने तत्काल फायर ब्रिगेड मंगाई मगर तब तक कार पूरी तरह जल गई,कार में सवार चालक तत्काल उतरकर हट गया जिससे इसमें कोई जनहानि नहीं हुई।

    विद्युत खंभे से टकराई बाइक, पुत्र की मौत, पिता गंभीर

  • हिंडाल्को से काम कर घर धनौरा लौट रहे थे दोनों
  • सोनभद्र। दुद्धी कोतवाली क्षेत्र के कटौली गांव के पास
    बुधवार की रात एक बाइक बिजली के खंभे से टकरा गई। दुर्घटना में बाइक सवार युवक धनौरा गांव निवासी विपिन कुमार की मौत हो गई। जबकि उसका पिता जयप्रकाश जायसवाल गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। दोनों एक ही बाइक से रेणुकूट स्थित हिंडाल्को कंपनी में नाइट शिफ्ट की ड्यूटी करके घर लौट रहे थे। बाइक की रफ्तार इतनी तेज थी कि टक्कर से विपिन का हेलमेट एवं बिजली का भी टूट गया। हादसे की आवाज सुन मौके पर जूट ग्रामीणों ने किसी तरह एंबुलेंस की मदद से जयप्रकाश को अस्प्ताल भेजे। यहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।