तीन साल के अंदर दुनियां की तीसरी अर्थ व्यवस्था पर होगा भारत

  • दलित पिछड़ों का आरक्षण मुस्लिमों को नहीं देने दिया जाएगा
  • भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने हाइडिल मैदान पर जनसभा को किया संबोधित
  • सोनभद्र। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि मां ज्वालामुखी और क्रान्तिकारियों की धरती पर आकर धन्य हो गया। क्रान्तिकारी पंडित महादेव चौबे समेत अन्य को याद करते हुए श्रद्धांजलि दी। कहा कि दस साल पहले भारत का आम नागरिक कहता था कि भारत में कुछ नहीं बदलने वाला है। सभी नेता एक समान हैं, यूपीए सरकार भ्रष्टाचार में लिप्त है। वे स्थानीय हाइडिल मैदान में शुक्रवार को एनडीए की लोकसभा प्रत्याशी रिंकी कोल व दुद्धी विधानसभा उपचुनाव के बीजेपी प्रत्याशी के समर्थन में सभा को संबोधित कर रहे थे।
    बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मोदी की अगुवाई में विकसित देश का संकल्प भारत की ओर चल चुका है। देश की जनता के आशीर्वाद से वे तीसरी बार पीएम जरूर बनेंगे। कहा कि 70 साल कांग्रेस के शासन मे जाति, धर्म की राजनीति की गई। मोदी ने सबका साथ, सबका विकास कर विकास वादी की राजनीति को जन्म दिया। अभी भी विपक्षी जाति, धर्म की राजनीति कर रहे हैं।
    हम तीन साल के अंदर दुनिया की तीसरी अर्थ व्यवस्था पर होंगे। दवा उत्पादन में देश दूसरे नबर पर है। भारत मांगने वाला नहीं देने वाला देश बन गया है। इस्पात उत्पादन में दूसरे नंबर पर आ चुका है। पहले मोबाइल फोन पर मेड इन चाइना लिखा होता था, अब मेड इन इंडिया लिखा होता है। सपा नेता अखिलेश पर तंज कसते हुए कहा कि वे बोलते थे डिजिटल क्या करेगा। अब सब्जी वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है। योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि आयुष्मान कार्ड समेत अन्य योजनाओं का लाभ पात्रों को मिल रहा है। देश की कोई माता, बहन, बुजुर्ग 70 साल के होंगे तो उन्हें पांच लाख का आयुष्मान कार्ड इलाज के लिए मिलेगा। कहा कि मोदी सरकार में चार करोड़ आवास बना। आने वाले समय में बिजली का बिल शून्य होगा। हर घर पर सौर ऊर्जा लगेगा। जिससे बची बिजली सरकार क्रय करेगी। आने वाले समय में पाइप लाइन से गैस घरों तक पहुंचेगा। हाइवे बन रहे हैं, ओवरब्रिज बन रहा है। मोदी ने यूपी का रेलवे बजट बढ़ा दिया। अब यूपी बीमारू राज्य से उत्तम प्रदेश बन गया है। कहा कि सोनभद्र और रेणुकूट रेलवे स्टेशन का नवीनीकरण हो रहा है। विपक्षियों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि सपा और कांग्रेस को षड्यन्त्र के सिवा कुछ नहीं आता। कहते हैं कि मोदी संविधान और आरक्षण समाप्त कर देंगे। कहा कि धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं लेने देंगे। विपक्षी मुस्लिमों को आरक्षण देने के लिए पिछले दरवाजे से षड़यंत्र करते हैं। पश्चिम बंगाल में कोर्ट ने कहा कि धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं मिलेगा। अखिलेश, राहुल की पार्टी परिवारवाद पार्टी है। कांग्रेस ने कोयला, चीनी, पनडुब्बी, आदि का घोटाला किया। अखिलेश ने अनाज, लैपटॉप खाया। सभी घोटाले बाज एक हो गए हैं, सभी की जगह जेल है। कहा कि एक तरफ राम और देश विरोधी हैं, दूसरी तरफ भाजपा है।
    जनसभा का सफल संचालन सदर विधायक भूपेश चौबे ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष नन्दलाल जी ने किया। इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी, क्षेत्रीय अध्यक्ष दिलिप सिंह पटेल, राज्यसभा सांसद रामशकल, समाज कल्याण राज्यमंत्री संजीव गोंड, कैबिनेट मंत्री आशीष पटेल, पूर्व प्रदेश संगठन मंत्री जयप्रकाश चतुर्वेदी, सदर विधायक भूपेश चौबे, कैलाश खरवार, अनिल मौर्या, जिलाध्यक्ष नंदलाल गुप्ता, जिला प्रभारी अनिल सिंह, लोकसभा प्रभारी रामप्रकाश दूबे, अपना दल एस जिलाध्यक्ष सत्यनारायण पटेल, एमएलसी विनीत सिंह, अमरेश पटेल, रमेश मिश्रा, अजीत रावत, अजीत चौबे, रमेश पटेल, लोकसभा प्रत्याशी रिंकी कोल, विधानसभा प्रत्याशी श्रवण गोंड़, अनूप तिवारी आदि मौजूद रहे।

    अज्ञात वाहन के टक्कर से दो युवकों की मौत, दो गंभीर

  • एक ही बाइक पर सवार थे चारो, नहीं लगाया था हेलमेट
  • सिलहटा से बरात कर रात में घर वापस लौट रहे थे चारो

  • मिर्जापुर। हलिया थाना क्षेत्र के हलिया हरिजन बस्ती के चार लोगों की गुर्गी गांव के पास अज्ञात वाहन के टक्कर से घायल हो गए। इसमें से दो की मौत हो गई, जबकि दो की हालत गंभीर है। सभी एक ही बाइक पर सवार थे और किसी ने हेलमेट नहीं लगाया था। हरिजन बस्ती के निवासी संतोष कुमार पुत्र हिंचलाल उम्र 40 वर्ष, श्रवण कुमार पुत्र हिंचलाल उम्र 24 वर्ष, शुभम कुमार पुत्र अशोक उम्र 15 वर्ष व आशीष कुमार पुत्र संतोष कुमार उम्र 13 वर्ष मोटर साइकिल पर सवार होकर ग्राम सिलहटा से बारात से वापस अपने घर लौट रहे थे। ग्राम गुर्गी के पास सामने से आ रहे अज्ञात वाहन से टक्कर हो गयी। इससे संतोष कुमार व शुभम कुमार उपरोक्त की मौके पर मृत्यु हो गयी। श्रवण व आशीष घायल हो गये। सूचना पर पुलिस के उच्चाधिकारी व थाना प्रभारी हलिया मय पुलिस बल के साथ तत्काल मौके पर पहुंचकर मृतकों के शव को कब्जें में लेकर नियमानुसार अग्रिम विधिक कार्यवाही की। घायलों को इलाज के लिये अस्पताल भिजवाया गया । टक्कर मारने वाले अज्ञात वाहन की तलाश की जा रही है। इस दुर्घटना से मृतकों के परिजनों में कोहराम मच गया है। लोग इस बात को लेकर परेशान थे कि आखिरकार चारों को एक ही पर बाइक पर जाने की क्या जरूरत थी। पोस्टमार्टम हाउस पर परिवार वालों की भीड़ लगी हुई थी और सभी रो बिलख रहे थे।

    एसपी ने ली परेड की सलामी, भोजनालय का जाना हाल

  • पीआरवी वाहन के उपकरणों का किया परीक्षण
  • बाराबंकी। पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह ने शुक्रवार की सुबह रिजर्व पुलिस लाइन्स स्थित परेड ग्राउण्ड में परेड की सलामी ली। परेड में उपस्थित समस्त पुलिस कर्मियों को शारीरिक व मानसिक रुप से फिट रहने के लिए दौड़ कराई। पुलिस कर्मियों का टर्न आउट चेक करते हुए अनुशासन व एकरूपता बनाए रखने हेतु ड्रिल की कार्यवाही कराई गयी। यूपी 112 पीआरवी वाहनों का निरीक्षण कर सम्बन्धित को मानकों के अनुसार समस्त आवश्यक उपकरणों को अपने पास रखने व रिस्पांस टाइम को और बेहतर करने के सम्बन्ध में निर्देशित किया। पुलिस अधीक्षक ने परेड के बाद पुलिस लाइन्स परिसर, बैरक, शस्त्रागार, परिवहन शाखा, सीपीसी कैंटीन, भोजनालय व भोजन की गुणवत्ता आदि का निरीक्षण कर सम्बन्धित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। आदेश कक्ष में विभिन्न रजिस्टरों एवं अभिलेखों को चेक कर अद्यावधिक रखने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। इस दौरान क्षेत्राधिकारी लाइन्स सुमित त्रिपाठी, प्रतिसार निरीक्षक सुभाष चन्द्र मिश्र आदि अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

    सीविजिल ऐप पर आने वाली शिकायतों की ली जानकारी

    वाराणसी। लोकसभा चुनाव को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए गठित कंट्रोल रूम का जिलाधिकारी एस राजलिंगम ने औचक निरीक्षण करते हुए प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, सोशल मीडिया, सी-विजिल, टोल फ्री-1950 समेत विभिन्न प्लैटफॉर्म पर निर्वाचन को लेकर आने वाली शिकायतों आदि के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने सभी शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण तथा ससमय निस्तारण को निर्देशित दिया। गौरतलब है की 25 मई को लोकसभा मछली शहर का निर्वाचन है जिसमें वाराणसी जिले की पिंडरा विधानसभा भी आती है जिसके लिए निर्वाचन हेतु आज पोलिंग पार्टियों रवाना हो रही हैं। उक्त संबंध में जिलाधिकारी द्वारा विभिन्न दिशानिर्देश भी दिया गया जिसमें इवीएम, निर्वाचन सामाग्री आदि प्राप्त करना, उनकी रवानगी तथा मतदान केंद्रों पर पहुंचने की पूरी जानकारी लेने को कहा। उन्होंने निर्धारित समयावधि में मतदान के आकड़े लेने को भी निर्देशित किया। किसी प्रकार की दिक्कत आने पर तुरंत संबंधित को जानकारी देने को कहा। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु नागपाल, एडीएम (एफ/आर) वंदिता श्रीवास्तव, सचिव वीडीए वेदप्रकाश मिश्र, सहायक नगर आयुक्त अमित शुक्ल, एसडीएम शिवानी सिंह, जिला सूचना अधिकारी सुरेंद्र नाथ पाल समेत निर्वाचन से जुड़े विभिन्न अधिकारी उपस्थित रहे।

    खड़े ट्रक से टकराई स्कॉर्पियो एक व्यक्ति की मौत चार घायल

  • दुद्धी क्षेत्र से वाराणसी उपचार के लिए जा रहे थे एक ही परिवार के लोग
  • सोनभद्र। हाथीनाला क्षेत्र के परासपानी गांव में वाराणसी शक्तिनगर मार्ग पर शुक्रवार की सुबह एक स्कॉर्पियो खड़े ट्रक से टकरा गई। इस दुर्घटना में चार लोग घायल हो गए जबकि एक व्यक्ति की मौत हो गई। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायल दो व्यक्तियों को वाराणसी रेफर कर दिया गया है।
    दुद्धी कोतवाली क्षेत्र के डूमरडीहा गांव निवासी एक ही परिवार के कुछ लोग शुक्रवार की सुबह परिवार के सदस्य के उपचार के लिए वाराणसी जा रहे थे। स्कार्पियो परासपानी क्षेत्र में पहुंची ही थी कि अनियंत्रित होकर सड़क के किनारे खड़े ट्रक में जा टकराई। इससे उसमें सवार चालक अमरेश कुशवाहा निवासी दुद्धी, सोनू रहिगर निवासी डूमरडीहा दुद्धी, यशोदा देवी निवासी डूमरडीहा दुद्धी, उपेन्द्र पनिका निवासी डूमरडीहा दुद्धी, राजेश रहिगर निवासी डूमरडीहा दुद्धी घायल हो गए।सभी घायलो को एम्बुलेंस से चोपन सीएचसी ले जाया गया है, जहां सबकी हालत गंभीर देख जिला अस्पताल भेज दिया गया। वहां उपचार के दौरान राजेश रहिगर की मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल उपेन्द्र कुमार व अमरेश को वाराणसी रेफर कर दिया गया है।

    बार्डर पर जांच में एक लाख रुपये कैश बरामद जब्त

    सोनभद्र। लोकसभा सामान्य निर्वाचन को निष्पक्ष संपन्न कराए जाने के लिए सीमा से सटा एमपी तेलगवां बॉर्डर पर गुरुवार को एफ‌एसटी टीम ने लगातार वाहन की तलाशी की। जांच के दौरान आनंद केशरी निवासी अनपरा के वाहन से एक लाख धनराशि बरामद की है। स्थानीय थाना प्रभारी दिनेश प्रकाश पांडे ने बताया कि बरामद धन राशि को सीज कर अग्रिम कार्रवाई में पुलिस जुटी गई है।

    सप्त दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा का हुआ समापन

  • मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम का सोनभद्र से रहा संबंध
  • विंध्य पर्वत पर अवस्थित चुनार किले से भगवान श्री कृष्ण ने 16 हजार राजकुमारी को मुक्त कराया था।

  • वश्रीमद् भागवत पुराण कथा के अंतिम दिन भक्तगणों ने हवन में दी आहुति

  • सोनभद्र। रॉबर्ट्सगंज नगर के उत्तर मोहाल स्थित मां शीतला धाम के पास पुरोहित पंडित अनिल पांडेय के संयोजन, संगीतकार अरविंद पाठक, भोला उपाध्याय, गिरवर पांडेय, अनिल दुबे, उमेश जी के गायन, वादन में मुख्य यजमान मोतीलाल सोनी, ललिता देवी के नेतृत्व में चल रहे सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा के अंतर्गत कथा व्यास माधवाचार्य (महेश देव पांडेय) जी ने श्रीमद् भागवत पुराण में वर्णित कथा भक्तों को सुनाते हुए कहा कि -"11 वा अवतार मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम का हुआ हुआ जिनका संबंध वर्तमान सोनभद्र से रहा है। वनागमन के समय विंध्य पर्वत को पार कर सोनभद्र के मार्ग से दक्षिण दिशा की ओर गए थे।
    मध्वाचार्य जी ने 12वे अवतार श्री कृष्ण के चरित्र एवं लीला का वर्णन करते हुए कहा कि- भगवान श्री कृष्णा ने चुनार किले में बंदी 16000 राजकुमारियो को मुक्त कराया था। इन राजकुमारी ने भगवान श्रीकृष्ण को अपना पति मान लिया, भगवान ने महारास का आयोजन किया। इसके लिए शरद पूर्णिमा की रात को यमुना नदी के तट पर गोपियों को मिलने के लिए कहा, सभी गोपियां सोलह श्रृंगार कर यमुना तट पर पहुंची श्रीकृष्ण की बांसुरी की धुन सुनकर सभी गोपियां अपना सुध-बुध खो बैठी एवं श्री कृष्ण के महारास में भाग लिया। ऐसा माना जाता है कि वृंदावन स्थित निधिवन ही वह स्थान है, जहां श्रीकृष्ण ने महारास रचाया था यहां भगवान ने एक अद्भुत लीला दिखाई जितनी गोपियां उतने ही श्रीकृष्ण के प्रतिरूप प्रकट हो गए। सभी गोपियों को उनके कृष्ण मिल गये और दिव्य नृत्य व प्रेमानंद शुरू हुआ।
    भगवान श्री कृष्ण एवं रुक्मणी के विवाह प्रसंग पर चर्चा करते हुए कहा कि-" भगवान श्रीकृष्ण ने सभी राजाओं को हराकर विदर्भ की राजकुमारी रुक्मिणी को द्वारिका में लाकर उनका विधिपूर्वक पाणिग्रहण किया । कथा के साथ-साथ संगीतमय भजन, आरती हवन मे प्रतिभा देवी, रीना गुप्ता, गुलाबी देवी, आशा देवी, माधुरी, अंजू,चंदन सोनी, सन्नू सोनी, सहित सभी भक्तों ने भाग लिया ‌।

    मतदाताओं से शालीनतापूर्ण एवं अच्छा व्यवहार करें, जिम्मेदारी से करें ड्यूटी

  • शांतिपूर्ण, भयमुक्त और निष्पक्ष मतदान कराने में सुरक्षा कर्मियों की भूमिका है महत्वपूर्ण
  • पोलिंग एजेंट्स को मतदान केंद्र के परिसर में बूथ से अलग बैठने की व्यवस्था की जायेगी

  • वाराणसी। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी एस राजलिंगम ने गुरुवार को पुलिस लाइन सभागार में चुनाव ड्यूटी में लगाये गये प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों की जानकारी देते हुए स्वतंत्र, भयमुक्त, शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने की प्रतिबद्धता जताई। बताया कि बूथों पर तैनात सुरक्षाकर्मी ये सुनिश्चित करेंगे कि कोई भी मतदाता बूथ के अन्दर मोबाइल लेकर कत्तई नहीं जायेगा। पोलिंग एजेंट्स को मतदान केंद्र के परिसर में बूथ से अलग बैठने की व्यवस्था की जायेगी, इसके अलावा वोटर असिस्टेंस के लिए भी अलग काउंटर बनाया जायेगा। भीषण गर्मी को देखते हुए पर्याप्त टेंटेज और पेयजल के साथ ही मेडिकल सुविधा भी उपलब्ध रहेगी। आप सभी अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। पुलिस कमिश्नर मोहित अग्रवाल ने पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों के अलावा ज़ोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा अन्य को निर्देशित किया कि कोई भी मतदाता चाहे वह एमपी या एमएलए का सुरक्षागार्ड क्यों न हो किसी भी दशा में मतदान करने या कराने बूथ के अन्दर असलहा लेकर नहीं जायेगा। पोलिंग पार्टी को ईवीएम प्राप्त होने के बाद उसकी सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी पुलिस की होगी। उन्होंने फोर्स के जवानो को मतदाताओं के साथ शालीनतापूर्वक व्यवहार करने की विशेष हिदायत देते हुए चुनाव आयोग के निर्देशों का सख्ती से पालन करने पर ज़ोर दिया और कहा अनधिकृत व्यक्ति किसी भी कीमत पर बूथ के अन्दर नहीं घुसना चाहिए। बैठक में पुलिस एवं प्रशासन के सभी संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

    सोनभद्र की सियासत में एक दशक तक रही नक्सलियों की दखल

  • लोकसभा, विधानसभा के चुनाव में जारी करते थे फरमान, कायम थी दहशत
  • खत्म हुआ नक्सलियों के बंदूक का खौफ, अब निर्भीक हैं मतदाता
  • पड़ोसी राज्यों के सीमावर्ती गांवों में ग्रामीणों की बैठक कर सुनाते थे फरमान

  • सोनभद्र। जनपद की सियासत में कभी नक्सलियों की खुलेआम दखल थी। उनकी दहशत का असर यह था कि उनके एक बुलावे पर ग्रामीण बैठक के लिए इकट्ठा होते थे, फिर उनकी फरमान सुनते थे। छह इंच छोटा करने और सरेआम गोली मारने वाले नक्सली अपनी बंदूक के बल पर लोगों से चुनाव बहिष्कार या किसी के पक्ष में मतदान का फरमान जारी करते थे। उनका यह दबदबा वर्ष 1998 से वर्ष 2006 तक पूरी तरह से कायम था। नक्सलवाद समाप्त होने के बाद अब मतदाता न सिर्फ निर्भीक होकर मतदान करते हैं बल्कि लोकतंत्र को मजबूत करते हैं।
    वर्ष 1998 के पूर्व से नक्सलियों ने जनपद के साथ ही चंदौली और मीरजापुर जिले के कुछ हिस्सों में अपनी पकड़ मजबूत करना शुरू कर दिया था। इसके बाद वर्ष 2000 के दशक में नक्सलियों का खौफ सिर चढ़कर बोलने लगा था। विजयगढ़ के युवराज की गोली मारकर हत्या, कई लोगों की पुलिस के मुखबिर होने की आशंका में छह इंच छोटा करने की घटना के बाद सोनांचल में नक्सलवाद चरम पर हो गया था। स्थिति यह थी कि पुलिस की तमाम कांबिंग के बावजूद नक्सलियों का हस्तक्षेप विकास कार्यों से लेकर चुनावी फैसले को लेकर होने लगा था। नक्सली बसुहारी से सटे पोखरिया गांव के जंगल में हथियार चलाने का प्रशिक्षण कैंप चलाते थे और जनपद के युवाओं को अपनी टीम में जोड़ते थे। नक्सलियों ने वर्ष 2002 में विधानसभा चुनाव से पूर्व नगवां ब्लाक के बिहार सीमा से सटे कुछ गांवों में काला झंडा फहराया था और चुनाव बहिष्कार का फरमान जारी किया था। तब नक्सली संजय कोल, लालव्रत कोल, रामसजीवन ऊर्फ गुरुजी, मुन्ना विश्वकर्मा, अजीत कोल, गिरधर गोपाल और बिहार के कुछ नक्सली महुली, चरगड़ा, चौरा, खोड़ैला, पोखरिया क्षेत्र में संदेश देकर ग्रामीणों को इकट्ठा करते थे और चुनाव बहिष्कार का एलान करते थे। या फिर किसी एक दल के पक्ष में मतदान करने का फरमान सुनाते थे।


    मुन्ना विश्वकर्मा की गिरफ्तारी के बाद पूरी तरह से खत्म हो गईं नक्सल गतिविधियां
    जनपद में वर्ष 2012 से नक्सल गतिविधियां पूरी तरह से खत्म हो गईं। तब पुलिस ने कुख्यात नक्सली कमांडर मुन्ना विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया था। इसके पूर्व कई कुख्यात नक्सली या तो गिरफ्तार हुए या फिर पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए। नक्सलियों ने सबसे ज्यादा नगवां ब्लाक के पहाड़ी क्षेत्रों और चोपन व कोन थाना क्षेत्र के बिहार व झारखंड की सीमा से सटे जंगलों को अपना ठिकाना बनाया था।

    बस्ती के पास खेत मे दिखा मकगरमच्छ हड़कम्प

  • वन विभाग की टीम ने पकड़कर मुक्खाफाल में छोड़ा
  • सोनभद्र। घोरावल वन क्षेत्र के अंतर्गत बर्दिया ग्राम पंचायत में बुधवार की सुबह मानव बस्ती के पास खेत में मगरमच्छ मिलने से गांव में सनसनी फ़ैल गई।सूचना मिलते ही स्थानीय वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची।वन विभाग की टीम ने मगरमच्छ को पकड़कर मुक्खा फाल के दह में छोड़ दिया। घोरावल कोतवाली क्षेत्र के बर्दिया ग्राम पंचायत के भैंसी मजरा में जोखन मास्टर के खेत में बुधवार की सुबह 8 फीट लंबे मगरमच्छ को देखकर बस्ती के लोग दंग रह गए।मगरमच्छ मिलने की सूचना पर मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। ग्रामीणों को देख मगरमच्छ इधर उधर दौड़ भाग करने लगा। किसी ग्रामीण ने मगरमच्छ मिलने की जानकारी वन विभाग को दी। वन क्षेत्राधिकारी सूरजु प्रसाद के निर्देश पर वन दारोगा राजन मिश्रा, वन्य जीव रक्षक अभिलाष वर्मा, रामलखन व ओमप्रकाश की टीम ने मौके पर पहुंची। डेढ़ घंटे मशक्कत के बाद वन विभाग की टीम ने मगरमच्छ को पकड़ लिया और मुक्खा फाल के दह में सुरक्षित छोड़ दिया। वन क्षेत्राधिकारी सुरजू प्रसाद ने बताया कि बुधवार की सुबह बर्दिया ग्राम पंचायत के भैंसी मजरा में आवासीय बस्ती के पास खेत से आठ फीट लंबा नर मगरमच्छ पकड़ा गया, जिसे मुक्खा फाल के दह में छोड़ दिया गया। हड़कम्प